Backlink kya hai? Backlink kaise banaye? in Hindi

Backlink kya hai in hindi? Backlink kaise banaye in hindi? Backlink meaning in hindi:- जब कोई इंसान blogging या website पर काम करते है तो वो लोग आपने blogging के carier में सभसे ज्याडा महत्त देते है आपने site की seo करने में.

seo का मतलब है search engine optimization. यानि आपनी site को search engine के लिए optimize करना होता है. ताकि ये search engine पर रैंक कर सके.

seo के ही बहत से महत्तपूर्ण भाग है उन में से ही एक है “backlink”. जसके बारीमे आज हम इस article में बात करेंगे. backlink kya hai? Backlink kaise kam karta hai? Backlink kaise banaye?

SERP (search engine result page)पर top पर रैंक करने के लिए हमें backlink की बहत ही जरुरत पार्टी है. backlink के जरिये ही SERP पर रैंक करना आसान होता है.

जो नए blogger है या नये नए blogging सुरु किया है वो आपने blog को SERP पर रैंक करवाने के लिए backlink के ऊपर ध्यान देना सहिये.

backlink kya hai? What is backlink in Hindi?

backlink kya hai hindi: Backlink एक प्रकार का external link होता है. जो किसी और के website से आपके website के साथ externally link रहता है.

backlink के जरिये ही किसी और के website से visiters आपके website तक आसानी से पहस सकते है.

For example:- मान लीजिये एक website “able2knowledge” और  gyangrih.in” एक website. इन दोनों ही अलग अलग website है.

जब आप able2knowlegeपर जायेंग तब आपको वोहा पर Hindi Blog option दिखाई देगा. जब आप उस पर click करेंगे तो आप सीधा gyangrih.in पर आ जायंगे.

इसे भी पढ़िए:- Blog,Blogging,Blogger kya hai?

ये है able2knowledge website से gyangrih.in तक लिया हवा एक backlink है.

इसी तरह किसी एक site से किसी दूसरी site तक लिया हवा link को ही backlink कहते है.

Backlink kyu jaruri hai? Why importance of backlink in hindi?

आब आप लोग जान लिया है की backlink kya hai? What is backlink in hindi? आब जानते है की backlink क्यों जरुरी है? blogging में.

free में ही आपने website या blog में traffic साहिये तो आपको search engine जेसे – google, yahooh,bing आदि में top पर रैंक करना होता है.

जिससे आपको बिना पैसा खर्स kiya ही free में ही लाखो visitors मिलते है एक दिन में.

इसे भी पढ़िए:- SEO Kya hai? SEO kaise kam karta hai?

एन search engine पर रैंक करेने के लिए आपको आपके site की seo करना जरुरी होता है. seo के दो भाग है- एक है on page seo, और एक है off page seo.

on page seo:- on page seo में हमें keyword research, content, आदि पर ज्यादा ध्यान में रखना होता है. और इसे article के अंदर इस्तेमाल करना होता है.

इसे भी पढ़िए:- on page seo kya hai?

off page seo:- off page seo में हमें article publish होने के बाद seo करना होता है. इसमें हमें article की publicity के ऊपर ध्यान रखना होता है.

इसे भी पढ़िए :- off page seo kya hai?

off page seo की एक भाग है backlink. जिसकी बात हम आज इस article में कर रहे है backlink kya hai?

backlink की मदद से आप आपके site की authority बढ़ा सकते है.

जिस site की authority जितने ज्यादा होती है google उसी site को search engine पर top पर रैंक करवा ते है. क्यों की आप जिस topic पर blog लिखने की सोच ते है उस topic के ऊपर हजारो article पहले से ही लिखी हुई है.

इसीलिए google पर रैंक करने के लिए आपके content unique होने के साथ ही आपके site किसी और site के साथ link होना सहिये.

जिन site की content के साथ ही high quality backlink भी होते है उन्ही site को ही search engine रैंक करवाता है.

और साथ ही आप जिस website से backlink लेते है उस website से आपके website तक backlink के साथ ही traffic भी मिलते है.

क्यों की जितने भी visitors उस website पर आते है वो उस site पर add link के जरिये आपके site तक पहस्ते है और आपको traffic मिलते है.

इसीलिए आपने site के backlink बनाना जरुरी होता है. backlink का इस्तेमाल करने से आपको रैंकिंग के साथ ही traffic भी मिलते है free में.

backlink लेने बक्त ये जरुर ध्यान में रखे की कभी भी इसी वेसी site से backlink ना ले. क्यों की एसा करने से google आपके site के ऊपर गलत

impression परता है. इसे में आपके site google पर कभी भी रैंक नही हो पायेगा.

Important terms of Backlink

कुस इसी backlink के terms जिनके बारेमे हमें जानना सहिये.

what is link juice in seo in hindi?

जब किसी website पर आपके website के किसे भी article को या आपके site की home page को link करता है तो उससे link juice pass करता है.

Link juice आपके website या blog के domain authority को बढ़ता है और रैंकिंग में मदद करता है.

low quality backlink kya hai?

low quality backlink उसे कहते है जब आप किसी इसी वेसी site, या spam site से backlink आते है तब उसे low quality backlink कहते है.

इस तरह के backlink से आप कभी भी search engine पे रैंक नही कर सकते हो. और googlesearch console पर plenty मिलते है.

इसीलिए backlink लेते बक्त ये ध्यान में रखना परता है आपके site पर कहा से backlink आ रहे है.

high quality backlink kya hai?

high quality backlink high quality website से आती है. high quality website उन्हें कहते है जो website popular होती है. जिनकी domain authority high होती है.

इन high quality website की value google पर ज्यादा होती है. जब आपके website पर quality website से backlink मिलते है तो उस site google पर रैंक करने में आसानी होती है.

इसिस्लिये google पर रैंक करने के लिए हामे high quality backlink की जरुरुँत होती है.

internal link kya hai?

जब आपके article के पोस्ट आपके ही website या blog के किसी दुसे article के page के साथ internally link होते है तो उसे internal link कहा जाता है.

जब आपके article google पर रंक होते है तो ये internal link आपके अन्य पोस्ट में traffic लाने में मदद करता है. जिससे की आपको और page पर भी traffic भी मिलते है.

Linking Root Domain kya hai?

किसी एक domain से जब आप आपके blog या website से backlink आ रहे है उसीको refer करते है. जब आपके website 10 बार linking होते है तो उससे Linking Root Domain कहते है.  

Anchor text kya hai?

hyperlink के लिए इस्तेमाल किया हवा link को ही anchor text कहा जाता है. जब आप किसी article को एक particular keyword के ऊपर रैंक करवाना सहते है तब anchor text काम आता है.

आबी तक आपलोगों ने जाना की backlink kya hai? backlink क्यों जरुरी है? आब जानेंगे की backlink के प्रकार (types of backlink).

Backlink ke prakaar / Types of backlink in hindi

Backilnk दो type के होती है.

  1. Do follow backlink
  2. No follow backlink 

आब जानेनेगे की dofollow और nofollow backlink में kya फर्क है. और  dofollow backlink aur nofollow backlink seo में क्यों जरुरी है?

1. Do follow backlink

इस article के पहले ही में ने बताया है की what is link juice in seo in hindi?  Link juice के जरिये ही dofollow backlink pass करते है.

Do follow backlink एक website से अन्य एक website तक जाने की रास्ता यानि link बनाते है. इसीलिए इसे दो follow backlink कहा जाता है. 

आपके website पर जितने भी link add होते ही वो सभी bydefault do follow backlink ही होते है. यही आपके site के लिए link juice pass करते है.

google ने search कंसोल में spam link को रोखने के लिए ही dofollow link को add kiya है.

Kaise pata kare do follow link?

<a heref=”https://gyangrih.in”rel=”dofollow”>Gyan Grih</a>

Or

<a herf=https://gyangrih.in”>Gyan Grih</a>

Or

<a herf=”https://gyangrih.in”  rel=”external”>Gyan Grih</a>

2. No follow backlink

No follow backlink जरिये link juice pass नही होता है. जिसके कारन no follow backlink का search engine पर कोई भी value नही होता है.

article को search engine पर ऐनक करवाने के मामले में no follow backlink का किसी भी तरह का हट नही होता है. no follow link के जरिये search engine पर रैंक नही करा जा सकता है.

blog या website पर available link को natural look देने के लिए no follow backlink का इस्तेमाल करना सहिये.

google पर सही से रैंक करने के लिए do follow backlink के साथ ही no follow backlink भी होना जरुरी है. एसा करने से google पर आपके blog का कोई भी गलत impression नही परता है.

Kaise pataa kare no follow backlink ?

<a herf=”https://gyangrih.in” rel=”nofollow” Gyan Grih </a>

Or

<a rel=”nofollow” herf=https://gyangrih.in> gyan grih</a>

आब तक आप लोगो ने जाना की backlink kya hai? backlink कितने प्रकार के होते है. do follow backlink, no follow backlink kya है?

आब जानते है की do follow backlink और no follow backlink ke kya benefits hai in hindi?

Do follow backlink benefits

No follow backlink benefits

1

Page ranking में improve करता है

ज्यादा traffic मिलते है

2

blog की domain authority improve करता है

do follow backlink के साथ no follow backlink blog को google पर natural look देता है.

3

article को search engine में top पर रैंक करवाता है

domain की authority DA, PA आदि improve करने में मदद करता है

 

website ke liye backlink kaise banaye?

आब तो आप लोगो ने जान लिया है की backlink kya hai? backlink क्यों जरुरी है ? आब सभी के मन ये सबाल आये होंगे की हम आपने blog या website ke backlink kaise banaye? 

हम ये भी जानते है की हामे आपने blog को search engine में रैंक करवाने के लिए हमें do follow backlink की जरुरत है. do follow backlink से ही हम google पर रैंक कर सकते है.

backlink बनाते समाया ये जान ले की आप आपके site के जितना सहे उतना backlink बना सकते हो. backlink की कोई भी सीमा नही होती है.

जितने ज्यादा backlink होंगे आपके site के उतना ही ज्यादा आपकी domain की authority बढेगा search engine में.

आयेय जानते है की website ke liye backlink kaise banaye?

dofollow backlink kaise banaye?

content लिख कर”-

आपने blog के लिए बेस्ट dofollow backlink पाने के लिए आप को बेहतर content लिखने की जरुरत होती है. जिससे की लोगो को आपके article को को पढने पर पसंद आये.

जब किसी को आपके article को पढने पर कुस नया जाने को मिल्लेंगे. जिससे वो लोग दुबारा आपके blog पर आयेंगे. जिससे आपको एक बेहतर backlink मिलेंगे.

और साथ ही search engine पर रैंक करने में भी आसानी होगी.

इसे भी पढ़िए :- content writing kya hai? content writing kaise karez?

guest post”-

guest post एक बहत ही बढ़िया process है dofollow backlink generate करने के लिए. आज कल बहत इसे blog या website है जा पर आप guest blogging कर सकते हो.

guest blogging से backlink लाने पर search कंसोल पर भी आच्छा impression परता है. जिससे search engine पर रैंक करने में आसानी होती है.

जब भी आप कभी भी guest blogging करे उससे पहले आप उस site की domain authority को चेक करके guest पोस्ट कर. backlink के लिए दोमैनौथोरिटी जितने ज्यादा होती है रैंक करने में उतना ही आसान होती है.

Comment करके-

comment के जरिये backlink प्राप्त करना बहत ही आसान और बेहतर tarika है.

जब आप किसी niche के ऊपर article लिखकर उसे publish करे उसके बाद आप उस article से releted अन्य website के article ले नीचे comment करे.

comment के द्वारा backlink बनाने पर आपको आपके site पर no follow backlink मिलते है. मगर आपको आपके article पर traffic भी ,इल्ते है.

और जब आप किसी और के site पर comment करे तो उस site पर आपकी site की url देना ना भूले. url देने पर ही आपकी site पर backlink मीलेंगे.

social sharing

आज के समय में social media platform बहत ही popular है.

जब भी किसी topic के ऊपर article लिख कर उससे publish करते है तो उस article को social media platfom पर जरुर share करे.

facebook, printerest, twitter इन social media platform पर जरुर आपके blog को share करे. क्यों की इस सभी site से आपको बहत ही आच्छा traffic मिलते है.

ज्यादा traffic आने पर आपके site search engine पर भी रैंक कर सकता है.

Conclusion

उम्मीद है के आपको backlink kya hai in hindi? what is backlink in seo in hindi? समझ आ गया होगा. यह बहुत ही आसान है. आप इन तरीको के मदद से आसानी से backlink kaise banaye समाज पाएंगे और आपने article में इस apply कर सकेंगे. 

मेरा आप सभी लोगो से गुजारिस है की आप लोग भी इस जानकारी को अपने आस-पड़ोस, रिश्तेदारों, अपने मित्रों में Share जरूर करें। . मुझे आप लोगों की सहयोग की आवश्यकता है जिससे मैं और भी नयी जानकारी आप लोगों तक पहुंचा सकूँ.

मेरा हमेशा से यही कोशिश रहा है की मैं हमेशा अपने  पाठकों का हर तरफ से हेल्प करूँ, यदि आप लोगों को किसी भी तरह की कोई भी doubt है तो आप मुझे बेझिजक पूछ सकते हैं. मैं जरुर उन Doubts का हल निकलने की कोशिश करूँगा. 

ध्यानाबाद … #ज्ञान गृह #gyangrih

 

3 thoughts on “Backlink kya hai? Backlink kaise banaye? in Hindi”

  1. Google ads मे Keyword Match Types क्या होता है। और हम उनका किस तरीके से उपयोग करते है और क्यो करते है। कितने तरीके के Google ads मे Keyword Match Types होते है। यहाँ इस पोस्ट मे हम लोग इसी टॉपिक पर बात करेंगे। आप google ads course का part – 6 पढ़ रहे है। आप अन्य पोस्ट भी जरूर पढ़ ले। Keyword Match Types Google Ads Course in Hindi part – 6 गूगल एड् कीवर्ड मैच टाइप

    Reply

Leave a Comment

%d bloggers like this: